आयुर्वेदिक तरीके से मांसपेशियाँ बढाए …

स्वस्थ और सेहतमंद तन, शांत मन और बेहतर जीवन का प्रतीक होता है। इसलिए अपने शरीर और सेहत का ध्यान रखना हर व्यक्ति के प्राथमिकता होनी चाहिए। लेकिन इसके लिए सही जानकारी की जरूरत होती है, परंतु हर इंसान के पास न तो इतना समय है और ना ही इतना पैसा कि वह स्वास्थ से जुड़ी हर छोटी-बड़ी जानकारी के लिए डॉक्टर या फिज़िकल ट्रेनर के पास जाए। वज़न का कम होना भी एक बड़ी समस्या है। जिस तरह अधिक वज़न सेहत के लिए ठीक नहीं होता है, कम वज़न भी एक समस्या का कारण है। कम वज़न न सिर्फ स्वास्थ्य के लिए बुरा होता है, बल्कि मनोबल को भी तोड़कर रख देता है।

आयुर्वेद की भाषा में जिन लोगों को वात दोष (पेट की बीमारी) होता है उनका स्वास्‍थ्‍य हमेशा खराब रहता है। खान-पान में अनियमितता की वजह से शरीर के अंदर कम कैलोरी जाती है और मेटाबॉलिज्म प्रभावित होता है।

हृस्ट पुष्ट शरीर होना जरुरी है | सिर्फ दिखावा ही नही, बल्कि काम करने की क्षमता के लिये वजन सही होना जरुरी है | काम वजन हो मगर श्फुर्तिले हो तो चिंता करने की जरुरत नही है | शरीर दुबला पतला है तो जल्दी थक जाता है तो जरुर वजन बढ़ाना चाहिए |

सिर्फ स्फूर्ति और ताकत ही नही और भी कारण है क्योकि दुबला इंसान को समाज में बहोत आदर नही मिलता है |शादी में रुकावट आ सकती है | तनाव रहता है, मन ही मन में इंसान हिन् भावना रखता है और आत्मविश्वास टूट जाता है |

वजन कम होने के कारण :

अग्निमांद्य या जठराग्नि का मंद होना ही अतिकृशता का प्रमुख कारण है। अग्नि के मंद होने से व्यक्ति अल्प मात्रा में भोजन करता है, जिससे आहार रस या ‘रस’ धातु का निर्माण भी अल्प मात्रा में होता है। इस कारण आगे बनने वाले अन्य धातु (रक्त, मांस, मेद, अस्थि, मज्जा और शुक्रधातु) भी पोषणाभाव से अत्यंत अल्प मात्रा में रह जाते हैं, जिसके फलस्वरूप व्यक्ति निरंतर कृश से अतिकृश होता जाता है। इसके अतिरिक्त लंघन, अल्प मात्रा में भोजन तथा रूखे अन्नपान का अत्यधिक मात्रा में सेवन करने से भी शरीर की धातुओं का पोषण नहीं होता।

शरीर कमजोर और पतला होने के काफी कारण हो सकते है उनमे से कुछ यहा बताए गए है |

 शरीर की पाचन क्रिया कमजोर होने की वजह से दुबलापन सकता है

वजन कम होना कई शारीरिक, मानसिक रोगों का संकेत है. अधेड़ावस्था या वृद्धावस्था में वजन कम होना ज्यादा गंभीर रोगों का सूचक होता है. हर व्यक्ति की आयु, लंबाई के अनुसार वजन को आदर्श वजन के आसपास ही रखना चाहिए. यदि वजन मानक वजन से 20 प्रतिशत से ज्यादा होता है तो अनेक गंभीर रोगों जैसे मधुमेह, उच्चरक्तचाप, जोड़ों के रोगों, हृदय धमनी रोग, (एंजाइना हार्ट अटैक), पक्षाघात आदि की आशंका बढ़ जाती है. |

  • पोषक तत्त्वों का पाचन, अवशोषण, आंतों के रोगों, संक्रमण, अग्नाशय के स्राव में कमी, पित्त के स्राव में कमी, दवाओं के दुष्प्रभाव आदि कारणों से वजन कम हो सकता है

  • गरीबी या अन्य कारणों से पर्याप्त मात्रा में संतुलित भोजन न मिलने पर वजन कम होने लगता है.

  • मानसिक तनाव, अवसाद, चिंता, प्रियजन की मौत, गंभीर बीमारी, घाटा होने पर भी भूख कम हो सकती है, क्योकि भोजन करने में रुचि नहीं होती अत: वजन कम हो सकता है.

  • खून की कमी होने से भी शरीर का वजन कम हो सकता है

  • मानसिक और भावनात्मक तनाव के कारण भी शरीर पतला होने लगता

  • जादा व्यायाम या फिर जादा शारीरिक काम करना

  • जादा तनाव लेना

  • खाया पिया न लगना

  • किसी रोग से ग्रस्त होना

  • पाचन तंत्र कमजोर होना

  • शरीर को जरुरी पोषण न मिलना

  • कुछ लोगो को ये परेशानी जेनेटिक होती है मतलब घर परिवार में सब का वजन कम होना

  • भूख कम लगना

 

शरीर को स्वस्थ और तंदुरुस्त रखने के लिए आयुर्वेदिक पद्धति का प्रयोग बहुत पहले से किया जा रहा है। जडी बूटियों में बहुत गुण होता है जैसे कि अश्वगंधा, शतावरी,कौंच बीज,विदारी,गोक्षुरा,मुसली चूर्ण,सुखी अदरक,काली मिर्च,पिपली,इलायची, गन्ना की चीनी जैसी शक्तिवर्धक औषधियों का मिश्रण अब आपको मिलेगा “मास बिल्ड़ो पाउडर” में जो कि पूरी तरह से शुद्ध आयुर्वेदिक पाउडर है | जो आपके शरीर को निरंतर ह्रुस्ट पुष्ट रखेगा जिससे आपका शारीरिक व्यक्तित्व उभरेगा और शरीर पर इसका साइड इफेक्ट नहीं होता है। और शरीर के रक्त, मास, मज्जा को भी मजबूत करता है | कई जडी बूटियां ऐसी हैं जिनके सेवन से भूख बढती है और जिनसे वजन बढता है।

ये पाउडर हमारे आयुर्वेदिक के निरीक्षक की जानकारी से किया गया है, जो पूरी तरीके से जाच परखकर बनाया गया है यह पूरी तरीके से आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से बनाया गया है | जिसका कोई गलत असर आपकी शरीर पर नही होगा |

 “मास बिल्ड़ो पाउडरसे मिलने वाले लाभ

अगर आप मास बिल्ड़ो पाउडर का रेगुलर इस्तेमाल करते है तो यह आपके शरीर की ताकत को बढ़ा देता है जिससे की आप किसी काम करते समय थकावट महसूस तक होने नही देता |

यह प्रॉडक्ट 100% आयुर्वेदिक है जो की सबसे बड़ा फायदेमंद है ।

  • यह आपकी भूख को भी सही मायने में बढ़ावा देता है |

  • जब आप इस आयुर्वेदिक पाउडर का इस्तेमाल करते है तो रोज की ली जाने वाली ऊष्मा तत्व (calories)बढ़ जाती है जिसकी वजह से सारा दिन आपको ताकत मिल जाती है और आप सुस्ती महसूस नही करते है।

  • यह पाउडर को अच्छी तरीके से कुछ समय तक नियमित लेने से पाचन की प्रक्रिया सही और जो भी भोजन करते है उसको शरीर में अच्छी तरीके से रूपांतरित करता है |

  • इस प्रॉडक्ट मे एसा कोई नुकसान देने वाला रासायनिक या फिर कोई दवा का इस्तेमाल नही किया जाता है जो की आपके शरीर को यह नैचुरल तरीके से वजन बढ़ाने मे मदद करता है।

  • यह पाउडर शरीर के हर हिस्से को अच्छी तरीके से बढ़ावा देता है |

  • मास बिल्ड़ो पाउडर इस्तेमाल करने का सबसे बढ़ा फायदा इसके अंदर अश्वगंधा इस्तेमाल किया है है। ऐसे बहोत आयुर्वेदिक पदार्थ का इस्तेमाल किया गया है जो को दूसरे आयुर्वेदिक पाउडर की प्रक्रिया से बहुत दूर है |

  • इसमे मौजूद सभी जड़ी बूटी हमारे शरीर के शारीरिक रूप को हस्ट पुष्ट बनाने के साथ साथ हमारे दिमाग हैल्थ को भी सुधारता है।

  • शरीर के मास को मजबूत बनाता है |

  • आपकी त्वचा बहोत अच्छी तरह से निखरती है ।

  • शरीर में कैल्शियम की कमी नही होती जिससे हड्डियॉ मजबूत होती हैं ।

 

2 Responses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top